Thursday, November 18, 2010

भ्रष्टाचार.....

सड़क पर इस कदर कीचड़ बिछी हुई है ।

हर किसी का पाँव घुटनों तक सना है ।


यह सही है की घुटनों तक कीचड़ सना है .... भ्रष्टाचार का बोलबाला है । पर किसी न किसी को तो कीचड़ साफ़ करना ही पड़ेगा और वह हम ही क्यों न हो ....

1 comment:

संजय भास्कर said...

सड़क पर इस कदर कीचड़ बिछी हुई है ।
हर किसी का पाँव घुटनों तक सना है ।
गहरी बात कह दी आपने। नज़र आती हुये पर भी यकीं नहीं आता।