Friday, April 10, 2009

सादगी ....

सादगी केवल एक शब्द ही नही , जीवन दर्शन हैसच्चाई का दूसरा नामसुन्दरता का प्रतिक
इस जमाने में भी कभी कभी दिख जाती हैपर गुमशुम ही रहती है
क्या करे ? मजाक नही बनना चाहती
सभी की जिंदगी में बुरा समय आता हैआशा रखो ... अंततः जीत सच्चाई की ही होगीदेर भले हो जाय

1 comment:

shyam kori 'uday' said...

... बेहद प्रभावशाली व प्रसंशनीय अभिव्यक्ति है ।